फुटबॉल टी शर्ट

Publishing time:2021-10-25 15:47:35

जोकर कोट्स फुटबॉल टी शर्ट 188bet एनसेरार धर्मत्यागी,casumo प्ले ओके,lovebet 0800 नंबर,lovebet ई लीगल,lovebet फोन नंबर,lovebet2 कारक प्रमाणीकरण कोड,ऑस्लॉट्स,बैकरेट उच्च जीत दर,बैकारेट यूट्यूब,मुफ्त पंजीकरण बोनस के साथ बेटिंग साइट,कैसीनो दिन संपर्क नंबर,कैसीनो राशि चक्र 80 मुक्त स्पिन,कॉमोन बेट,क्रिकेट मूल,एस्पोर्ट्स डिग्री,फेनविन विलासेरन,फुटबॉल एकल खेल कौशल,जिन रम्मी क्लासिक ऑनलाइन स्पेनी,ऑनलाइन बैकारेट में छूट कैसे अर्जित करें,आईपीएल वूम,जॉनी रश फिशिंग गाइड,लाइव कैसीनो कार्यक्रम आज रात,लॉटरी 9 तारिक मॉर्निंग,लूडो ईगल,एनजे लॉटरी पिक 4,ऑनलाइन जुआ खेल विकास कंपनी,ऑनलाइन पोकर टेक्सास,पैरिमैच प्रीमियर लीग,पोकर mp40 फ्री फायर,प्रतिष्ठित सट्टेबाजी कंपनी,नियम समानार्थी शब्द,रम्मीकल्चर ऐप अपडेट डाउनलोड,स्लॉट मशीन सिम्युलेटर,खेल सट्टेबाजी वेबसाइट परिचय,स्पोर्ट्सबुक टिकट लेखक वेतन,टेक्सास होल्डम टूर्नामेंट,आप फुटबॉल जीएम,लाइव बैकारेट कहां खेलें,जेड लॉटरी संबाद,ऑनलाइन जुआ lyrics,क्रिकेट score भारत live,गोवा धीरे-धीरे,तीन पत्ती गेम कैसे खेलते हैं,बकरा नीचे शहर लुधियाना बा,बैकरेट गेमप्ले कौशल,शालीमार lottery.com, .गोयल ने कहा, कपड़ा मशीनरी क्षेत्र आयात पर निर्भरता घटाए

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

गोयल ने कहा, कपड़ा मशीनरी क्षेत्र आयात पर निर्भरता घटाए

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कपड़ा मशीनरी क्षेत्र से आयात पर निर्भरता घटाने को कहा है। उन्होंने कपड़ा मशीनरी क्षेत्र में 100 ‘चैंपियनों’ के विकास पर जोर देते हुए कहा कि कपड़ा इंजीनियरिंग उद्योग तथा सरकार के सम्मिलित प्रयासों से क्षेत्र की आयात पर निर्भरता को कम किया जा सकता है।

वाणिज्य एवं उद्योग, कपड़ा, उपभोक्ता मामले तथा खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री ने शुक्रवार को कपड़ा मशीनरी विनिर्माताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बात कही।

उन्होंने कपड़ा मशीनरी विनिर्माताओं से कहा कि वे पहले से तैयार सुविधाओं के जरिये काम करें और क्षेत्र को गतिशील बनाएं।

विदेशों के 15 कपड़ा मशीन विनिर्माता, 20 घरेलू विनिर्माता और सात कपड़ा मशीनरी और संबद्ध उद्योग के संघ इस परिचर्चा में शामिल हुए।

इस परिचर्चा का मकसद मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत देश में कपड़ा इंजीनियरिंग उद्योग की वृद्धि के लिए पारिस्थितिकी तंत्र का विकास करने की संभावित रणनीति बनाना था।

गोयल ने कहा कि राष्ट्रीय पूंजीगत सामान नीति विनिर्माण क्षेत्र की नीति है। सरकार ने पूंजीगत सामान के उत्पादन को 2025 तक 101 अरब डॉलर पर पहुंचाने के लिए यह नीति बनाई है। पूंजीगत सामान का उत्पादन मूल्य के हिसाब से 2014-15 में 31 अरब डॉलर था।

गोयल ने कपड़ा उद्योग से नवोन्मेषण वाली भागीदारी करने को कहा। एक बयान में कहा गया है कि गोयल ने भारतीय कपड़ा मशीनरी क्षेत्र में 100 अग्रणी इकाइयों के विकास पर जोर दिया, जिनकी दुनियाभर में पहचान हो।

मंत्री ने कहा कि भारत को कपड़ा मशीनरी उत्पादन के क्षेत्र में वैश्विक खिलाड़ी बनने का प्रयास करना चाहिए। गुणवत्ता और मात्रा के हिसाब से ऐसी मशीनरी का उत्पादन करना चाहिए, जिनकी दुनिया को जरूरत है।

गोयल ने कहा, ‘‘हम आयात के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन कपड़ा मशीनरी उद्योग तथा सरकार के सम्मिलित प्रयासों से आयात पर निर्भरता कम करने की जरूरत है। यदि हम गुणवत्ता पर ध्यान देते हैं, तो बड़े बाजारों में पकड़ बना सकते हैं और ऊंची उत्पादकता हासिल कर सकते हैं।’’

उन्होंने कहा कि आधुनिक और उन्नत कपड़ा मशीनरी पारिस्थितिकी तंत्र से देश के असंगठित कपड़ा उद्योग को भी फायदा होगा।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts
Under the lens

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts

10 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
गोयल ने कहा, कपड़ा मशीनरी क्षेत्र आयात पर निर्भरता घटाए

चेन्नई, 24 अक्टूबर (भाषा) कच्चे माल की कीमत में वृद्धि के साथ उत्पादन लागत बढ़ने की वजह से एक दिसंबर से माचिस की डिब्बी की कीमत मौजूदा एक रुपये के बजाय अब दो रुपये होगी। संबंधित उद्योग संगठन ने रविवार को यह जानकारी दी। हालांकि, उपभोक्ताओं को अब एक डिब्बे में ज्यादा तीलियां मिलेंगी। पहले डिब्बे में 36 तीलियां होती थीं और अब इनकी संख्या 50 होगी।नेशनल स्मॉल मैचबॉक्स मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के सचिव वी एस सेतुरतिनम ने कहा कि प्रस्तावित मूल्यवृद्धि 14 साल के अंतराल के बाद हो रही है।उन्होंने कहा कि कच्चे माल की कीमत में वृद्धि हुई हैनयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) उद्योग मंडल पीएचडीसीसीआई ने रविवार को कहा कि आर्थिक पुनरुद्धार के जोर पकड़ने के साथ उसे आने वाली तिमाहियों में मजबूत जीडीपी वृद्धि की उम्मीद है। उद्योग मंडल द्वारा ट्रैक किए गए क्यूईटी (क्विक इकोनॉमिक ट्रेंड्स) के 12 प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में से नौ ने सितंबर 2021 में क्रमिक वृद्धि में तेजी दिखायी है जबकि अगस्त में छह संकेतकों में ऐसा हुआ था। पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) के अध्यक्ष प्रदीप मुल्तानी ने कहा, "हाल के महीनों में प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में तेजी से पता चलता है कि आर्थिक पुनरुद्धारकारें होंगी महंगी, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमतें

हाल में इनपुट कॉस्‍ट में बढ़ोतरी का हवाला देते हुए मारुति सुजुकी इंडिया, रेनॉ इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, फोर्ड इंडिया, इसुजु, बीएमडब्ल्यू इंडिया, ऑडी इंडिया और हीरो मोटो कार्प जैसी वाहन कंपनियां पहले ही जनवरी से कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर चुकी हैं.नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कपड़ा मशीनरी क्षेत्र से आयात पर निर्भरता घटाने को कहा है। उन्होंने कपड़ा मशीनरी क्षेत्र में 100 ‘चैंपियनों’ के विकास पर जोर देते हुए कहा कि कपड़ा इंजीनियरिंग उद्योग तथा सरकार के सम्मिलित प्रयासों से क्षेत्र की आयात पर निर्भरता को कम किया जा सकता है। वाणिज्य एवं उद्योग, कपड़ा, उपभोक्ता मामले तथा खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री ने शुक्रवार को कपड़ा मशीनरी विनिर्माताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बात कही। उन्होंने कपड़ा मशीनरी विनिर्माताओं से कहा कि वे पहले से तैयार सुविधाओं के जरिये काम करें औरअपोलो टायर्स ने भारत में व्रेडेस्टीन ब्रांड उतारा

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.फरवरी 2021 में टीकेएम ने 14,075 वाहनों की बिक्री की थी. इस तरह घरेलू बाजार में उसने फरवरी 2020 के मुकाबले 36 फीसदी ग्रोथ दर्ज की थी.कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


यूरोपीय फ़ुटबॉल लाइव वीडियो
लॉटरी हरिओम लॉटरी
lovebet दा दिनहिरो
lovebet जैकपॉट 5 भविष्यवाणियां चुनें
ऑनलाइन बैकरेट सट्टेबाजी का तरीका
casumo सत्यापन प्रक्रिया
lovebet यूरो 2020
लाइव रूले वेगास
3 रील स्लॉट ज़िप कोड
जैकपॉट kl
बैकारेट वर्धमान
बैकारेट का पहला चार-हाथ वाला सट्टेबाजी का दृष्टिकोण
lovebet एम
पैरिमैच विदड्रॉल पेटीएम
शाही रानी बीज
बैकरेट लाइव डीलर
खुश किसान ऑर्केस्ट्रा
ब्लैकजैक किस प्लेटफॉर्म पर है
सभी नियमों में पोकर
कैटरीना धीरे-धीरे
ऑनलाइन कैसीनो nz
मैं पोकर उपकरण
लॉटरी खेला का परिणाम
lovebet ग्राहक सेवा नंबर भारत
फुटबॉल रोनाल्डो
जी क्रिकेट लाइव
lovebet केविन पीटरसन