बैकारेट नियम अधिक

बैकारेट नियम अधिक

time:2021-10-20 15:05:58 क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद Views:4591

ऑनलाइन जुआ yjc बैकारेट नियम अधिक lovebet नूबैंक स्वीकार करता है,fun88 एक्सचेंज,lovebet 30/1 इंग्लैंड जीतने के लिए,lovebet अच्छा या बुरा,lovebet स्पीडी 7 ट्रिक्स,lovebet और सी,बैकारेट 88,बकारट मियामी,बेस्ट फाइव कोट्स अम्ब्रेला एकेडमी,बोनस जिन्स,कैसीनो मैं मोनाको,शतरंज 5 मिनट का खेल,क्रिकेट ऐप डाउनलोड,क्रिकेट विक्टोरिया,एस्पोर्ट्स शर्ट,फुटबॉल एक श्रृंखला,फ्री बैकारेट गेम,हैप्पी सिटी किसान hk,बैकारेट अनुशंसा कैसे देखें,क्या बैकारेट में जीतने का कोई तरीका है?,केरल लाटरी का परिणाम,लाइव कैसीनो साइन अप बोनस,लॉटरी इतिहास ड्रा,लूडो रश,ऑनलाइन बैकरेट पोकर,ऑनलाइन गेम लोगो निर्माता,ऑनलाइन स्लॉट echtgeld,रम्मी में बिंदु,पोकर यू जंबू,रूले हॉट नंबर,रम्मी 7 कार्ड,रम्मीकल्चर रेफरल कोड क्या है,स्लॉट 888 कैसीनो,खेल करुरी,ताई खेल lovebet,सबसे तेज़ बास्केटबॉल लाइव स्कोर,वैन ईक एस्पोर्ट्स,किस प्लेटफॉर्म की वेबसाइट का स्पीड टेस्ट सबसे अच्छा है,cricket गेम,ओल्ड गोवा,क्रिकेट ताज्या बातम्या,चेस गेम कैसे खेलते हैं,थिसारा परेरा cricket,बरसात छम छम,रमी कैसे खेली जाती है,स्टेटस छत्तीसगढ़ी, .क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

एमबीए करने के लिए आपके पास मजबूत कारण होना चाहिए.
क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? अगर हां तो इसके लिए सही तैयारी और जानकारी दोनों जरूरी हैं. एमएबीए की डिग्री आपके करियर को पंख लगा सकती है. यहां हम बता रहे हैं कि अच्‍छे बी-स्‍कूल से एमबीए करने के लिए आप कैसे तैयारी कर सकते हैं.

1. अभी बी-स्‍कूल क्‍यों?
एमबीए करने के लिए आपके पास मजबूत कारण होना चाहिए. मौजूदा स्थितियों से भागना इसके पीछे वजह नहीं होनी चाहिए. इसके लिए पहला ठोस कारण यह हो सकता है कि आप फाइनल ईयर के स्‍टूडेंट या फ्रेश ग्रेजुएट हों और अच्‍छी शुरुआत करने के लिए मौका न मिल रहा हो.

अच्‍छे ब्रांड से दो साल का एमबीए मार्केट की बदली हुई स्थितियों में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. पहली अच्‍छी नौकरी जरूरी है. यह हर साल आपकी सैलरी को कई गुना रफ्तार से बढ़ाती है. एमबीए करने का दूसरा कारण यह हो सकता है कि आप कर‍ियर में स्विच करना चाहते हैं क्‍योंकि या तो आपको वह पसंद नहीं है या फिर जिस इंडस्‍ट्री में आप काम करते हैं, उसे काफी नुकसान हुआ है. यह इंडस्‍ट्री ट्रैवल, हॉस्पिटैलिटी या टेलीकॉम हो सकती है.

एमबीए की डिग्री आपको विश्‍वसनीयता हासिल करने में मदद करती है. फिर चाहे आपने किसी भी सेक्‍टर में काम किया हो. अंतिम कारण यह हो सकता है कि आप अपने डोमेन में स्‍पेशलिस्‍ट बनकर रहने के बजाय सामान्‍य प्रबंधन करना चाहते हैं. इसके अलावा कोई दूसरा कारण एमबीए करने के लिए नहीं होना चाहिए. याद रखें कि एमबीए करना ज्‍यादा पैसा बनाने की गारंटी नहीं है.

2. कैसे करें बी-स्‍कूल का चयन?
सबसे पहले देख लें कि आप किस देश में अपना करियर बनाना चाहते हैं? अधिकतम अवसरों के लिए उसी देश में एमबीए प्रोग्राम चुनें. इसके बाद सबसे विश्‍वसनीय एमबीए ब्रांडों का पता लगाएं. यह काम न्‍यूज आर्टिकल और एमबीए कर चुके छात्रों से बातचीत के माध्‍यम से किया जा सकता है. वह ब्रांड आपके सीवी में जीवनभर रहेगा. इसमें कितनी लागत आएगी, अवधि कितनी होगी (एग्‍जीक्‍यूटिव के लिए दो साल या उससे कम), एजुकेशन लोन कितना लेना होगा, एमबीए प्लेसमेंट कैसा है और परिवार से दूरी, ये कुछ और फैक्‍टर हैं, जिन्‍हें देखने की जरूरत होगी.

3. टाइम मैनेजमेंट कैसे करें?
अंत में अपनी पसंद के कॉलेज में दाखिले के लिए तैयारी शुरू कर दें. हर एक एमबीए प्रोग्राम में चयन की अलग-अलग जरूरतें होती हैं. कड़ी डेडलाइन रखी जाती हैं. यह फेज पूरी तरह से समय और ऊर्जा के प्रबंधन से जुड़ा है. यदि आप नौकरी छोड़ते समय या अपने कॉलेज शेड्यूल को संतुलित करते हुए कई एप्‍लीकेशनों पर विचार कर रहे हैं, तो यह एक कठिन काम है. यानी पहले प्रयास में कामयाबी मिले, इसकी गारंटी नहीं है. तमाम एमबीए में आवेदन प्रक्रिया के विभिन्न चरणों के लिए समयसीमा नोट करें. योग्यता को पूरा करने के लिए पर्याप्त समय लेकर चलें.

4. टेस्‍ट में कैसे पाएं कामयाबी?
एमबीए में दाखिले के लिए आमतौर पर प्रवेश परीक्षा के स्‍कोर की जरूरत होती है. इंटरनेशनल और एग्‍जीक्‍यूटिव एमबीए के लिए यह आमतौर पर जीमैट होता है. जबकि भारतीय बी-स्कूलों के लिए यह कैट/ सीईटी/ मैट/अन्य हो सकता है. जीमैट के लिए 700+ स्कोर काफी अच्‍छा है. इसे गंभीरता से लिया जाता है. भारत में एमबीए के लिए टेस्‍ट स्कोर अक्सर इंटरव्‍यू के लिए शॉर्टलिस्ट करने का सबसे बड़ा फैक्‍टर होता है. अच्‍छा स्‍कोर सुनिश्चित करने के दो आसान तरीके हैं.

पहला, लगभग 30 उच्च गुणवत्ता वाले मॉक प्रश्न पत्र और उनका हल जुटा लें. हर दिन कम से कम एक का हल करें और उन प्रश्नों के समाधान में महारत हासिल करें, जो आपको अटकाते हैं. एक बार जब आप पूरे लॉट को खत्म कर लें तो पहले पेपर पर वापस जाएं और प्रक्रिया को दोहराएं. दो-तीन महीने में तीन से चार साइकिल पूरे करें. दूसरा चरण तैयारी के लिए अनुशासन खोजना है. अनुशासन के लिए आप कोचिंग क्‍लास ज्‍वाइन कर सकते हैं.

5. निबंध लेखन में कुशलता कैसे हासिल करें?
अब आपके प्रयास टीम पर निर्भर करेंगे. यह काम अकेले न करें. अगर चयन प्रक्रिया में आपके जीवन और करियर के बारे में सवालों के जवाब में कुछ निबंधों की आवश्यकता होती है तो आपको अपने काम को पढ़वाने के लिए लोगों की जरूरत होगी. लेखन के लिए सही नजरिया अपने जीवन और प्रेरणाओं की समीक्षा करना और इसे कहानीकार की तरह बताना है.

6. बातचीत में कैसे कुशल बनें?
इंटरव्‍यू प्रोसेस अंतिम बाधा है और वर्तमान में यह वीडियो कॉल पर हो रही है. यह भी एक महत्वपूर्ण टीम वर्क है. निबंध सब्मिट करने के बाद इंटरव्‍यू में शॉर्टलिस्ट की प्रतीक्षा न करें. 100 स्‍टैंडर्ड एमबीए इंटरव्‍यू क्‍वेस्‍चन डाउनलोड करें और तुरंत मॉक इंटरव्यू शुरू कर दें. इसके लिए परिवार के सदस्‍यों और मित्रों की मदद ली जा सकती है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

एमबीएइंटरव्‍यू प्रोसेसनिबंध लेखन

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.एक्सिस बैंक ने कर्मचारियों का वेतन 12% तक बढ़ाया

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.फास्‍टैग नहीं लिया है? परेशान न हों, कुछ ही मिनट में गाड़ी में लग जाएगा

पिछले तीन महीनों में वाहनों को बनाने में लगने वाले कच्‍चे माल की कीमतें बढ़ी हैं. इससे वाहनों के दाम 10-15 फीसदी तक बढ़े हैं.महिंद्रा एंड महिंद्रा ने शुक्रवार को संकेत दिए कि कमोडिटी के कीमतों में आई तेजी के चलते आने वाले कुछ महीनों में वह अपने वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है.क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
lovebet x

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.

गोवा झार पीर का विवाह

क्‍या आप 2021 में कार खरीदने की योजना बना रहे हैं? अगर हां तो कारदेखो डॉट कॉम के साथ मिलकर हम यहां आपको कुछ शानदार विकल्‍पों के बारे में बता रहे हैं. कार के ये मॉडल इस साल लॉन्‍च हो सकते हैं. हमने यहां 7 लाख रुपये तक की रेंज में सबसे अच्‍छी कारों को चुना है.

परिमच फ्री बेट

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

बकरा जिबह करने की दुआ हिंदी में

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.

0.5 लवबेट

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी