स्लॉट वाई रनुरास

Publishing time:2021-10-25 16:06:44

कैसीनो के खेल रेट स्लॉट वाई रनुरास 10cric बनाम bet365,casumo अकाउंट कैसे डिलीट करें,लियोवेगास ट्विटर,lovebet कस्टमर केयर नंबर,lovebet ओ'डायर बेलेव्यू हिल,lovebet ३००,क्या बैकारेट खेलों में अनुसरण करने के लिए कोई कौशल है?,बैकारेट गेम ऐप,बैकरेट वेबसाइट ओरिएंटल,बेटिंग को फंक्शन अर्जित करना चाहिए,कैसीनो ब्रिस्बेन,कैसीनो वेब श्रृंखला,क्लासिकरम्मी संपर्क नंबर,क्रिकेट लाइव स्कोर टेस्ट,एफ़ुटबॉल पेस,च जय लवबेटो,फुटबॉल परिधीय साइट,उत्पत्ति कैसीनो टेलीफोन नंबर,बैकारेट कंप्यूटर पर बेट कैसे लगाएं,आईपीएल पॉइंट टेबल,जैकपॉट x ppf2,सबसे तेज़ लॉटरी परिणामों का सीधा प्रसारण,लॉटरी 3 नंबर अनुमान लगाना,लकी 7 लवबेट,एनबीए लाइव प्रसारण हॉल,ऑनलाइन कैसीनो जोंडर खाता,ऑनलाइन पोकर मिशिगन,पैरामैच जॉब्स,पोकर युद्ध पीडीएफ है,असली पैसा ऑनलाइन शतरंज और कार्ड,राजाओं पर राज करो,रम्मी विजय सेतुपति,स्लॉट मशीन निर्माता,स्पोर्ट्स 8k वॉलपेपर,स्पोर्ट्सबुक लाइव,टेक्सास होल्डम नो मनी,टीआर क्रिकेट डाउनलोड,मुझे मजेदार बैकरेट ऑनलाइन कहां मिल सकता है,वाई फुटबॉल टीम,एक बड़ा लाभ,क्रिकेट highlight,गोवा जाने वाली ट्रेन,तिल २ खोलें,बकरा इन इंग्लिश मीनिंग,बेटा होने का लक्षण,लॉटरी भेजें, .सेकेंड हैंड व्हीकल खरीद रहे हैं तो नहीं होगी परेशानी, गांव में ही पता चलेगा कि गाड़ी चोरी की तो नहीं

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

सेकेंड हैंड व्हीकल खरीद रहे हैं तो नहीं होगी परेशानी, गांव में ही पता चलेगा कि गाड़ी चोरी की तो नहीं

Story outline

  • कोरोना काल में सेकेंड हैंड व्हीकल की खरीद-बिक्री खूब हो रही है
  • ऐसे में लोग चोरी के वाहन भी बेच कर खूब पैसे बना रहे हैं
  • ग्रामीण और दूर दराज के इलाके में तो पता भी नहीं चलता और लोग ठगे जाते हैं
  • अब गांव में ही पता चल जाएगा कि यह व्हीकल मालिक बेच रहा है या चोर बेच रहा है
अब सीएससी से मिलेगी एनसीआरबी की एनओसी (File Photo)
नई दिल्ली
कोरोना काल में सेकेंड हैंड व्हीकल (Secondhand Car) की खरीद-बिक्री खूब हो रही है। ऐसे में लोग चोरी के वाहन भी बेच कर खूब पैसे बना रहे हैं। ग्रामीण और दूर दराज के इलाके में तो पता भी नहीं चलता और लोग ठगे जाते हैं। अब गांव में ही पता चल जाएगा कि यह व्हीकल (Used Vehicle) मालिक बेच रहा है या चोर बेच रहा है। इसके लिए नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो (NCRB) और कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) में करार हुआ है।

लोगों को सेकेंड हैंड व्हीकल (Used Car) खरीदने में परेशानी नहीं हो, इसके लिए केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (IT Ministry) के तहत काम करने वाले कॉमन सर्विस सेंटर ने गृह मंत्रालय (Home Ministry) के निकाय नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ( NCRB ) के साथ करार किया है। इसके तहत देश भर में मौजूद कॉमन सर्विस सेंटर के करीब चार लाख केंद्रों के माध्यम से सेकेंड हैंड गाड़ी खरीदने वालों को उस व्हीकल के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी।

सीएससी से मिलेगा एनओसी
वैसे तो नियम है कि सेकेंड हैंड व्हीकल खरीदने के लिए एनसीआरबी से एनओसी लिया जाए। पर गांवों या दूररदाज के इलाकों में ऐसा होता नहीं है। दरअसल, सब जगह एनसीआरबी का दफ्तर भी नहीं है। इसलिए एनसीआरबी ने सीएससी से करार किया है, क्योंकि इसकी पहुंच देश के गांव-गांव तक है। इस करार का शुभारंभ केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के निदेशक और केंद्रीय गृह मंत्रालय तथा नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति मैं कल किया।

कैसे मिलेगी एनओसी
इस सेवा के माध्यम से पुरानी गाड़ी खरीदने वाले अपने नजदीक के कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर खरीदे जाने वाले वाहन से संबंधित नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट को हासिल कर पाएंगे। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने सभी राज्य सरकारों को अनुरोध किया है कि वह सीसीटीएनएस सर्विस को डिजिटल सेवा पोर्टल के साथ लिंक करें। इससे कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से आम नागरिकों को यह सेवा उपलब्ध कराने में सहायता मिलेगी।

बढ़ रहा है सेकेंड हैंड व्हीकल का बाजार
कॉमन सर्विस सेंटर के प्रबंध निदेशक दिनेश त्यागी का कहना है कि भारत में पुरानी गाड़ियों का बाजार बढ़ रहा है। शहरों में ही नहीं, गांवों में भी लोग निजी और व्यवसायिक वाहनों को बड़ी संख्या में खरीद रहे हैं। ऐसे में कॉमन सर्विस सेंटर लोगों को तेजी से पुरानी गाड़ियों की खरीद के लिए नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट उपलब्ध करा सकता है। विशेष कर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को इसका बड़ा लाभ मिलेगा। नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट यह भी बताएगा कि गाड़ी बेचने से पहले कहीं उसका किसी पुलिस रिकॉर्ड में कोई उल्लेख तो नहीं है।

क्यों जरूरी है एनओसी
जब कोई व्यक्ति पुराने मोटर वाहन खरीदता है तो उसे नजदीक के परिवहन विभाग से अपने नाम कराता है। उस समय भी रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस या आरटीओ गाड़ी के ट्रांसफर पेपर बनाने से पहले नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट हासिल करता है। जिससे यह पता चले कि वह गाड़ी किसी कानूनी मुकदमा या अन्य मामले में तो उल्लेखित नहीं है।

टॉपिक

सेकेंड हैंड व्हीकलकार खरीदटू व्हीलर खरीदcscकार चोरीकॉमन सर्विस सेंटरसीएससीcommon service centresecondhand vehiclesecondhand car

ETPrime stories of the day

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
सेकेंड हैंड व्हीकल खरीद रहे हैं तो नहीं होगी परेशानी, गांव में ही पता चलेगा कि गाड़ी चोरी की तो नहीं

बारिश के मौसम की फसल अत्यधिक थी और यह सितंबर तक जारी रही। बरसात के मौसम की फसल की अधिकता के कारण सर्दियों की फसल के उत्पादन के लिए नए कल्ले नहीं निकले। किसानों ने बताया कि सर्दियों की फसल पिछले वर्ष की फसल का लगभग 20 प्रतिशत थी। वर्षा ऋतु की फसल की अधिक मात्रा का एक कारण हल्का तापमान (ग्रीष्मकाल के दौरान सामान्य तापमान से 4-5 डिग्री सेल्सियस कम) था।मिट्टी में पानी की कमी और उच्च तापमान, बरसात के मौसम की फसल को समाप्त करने का प्राकृतिक तरीका है। गर्मी में मिट्टी में कम नमी के कारण फूल और छोटे फल गिर जाते हैं। इस वर्ष गर्मी में नियमित वर्षा और सामान्य से कम तापमान के कारण उक्त परिस्थिति उत्पन्न नहीं हुई। परिणाम स्वरूप बरसात की फसल की फलत अधिक रही और जुलाई से सितंबर तक फूल निकल नहीं पाए और यह स्थिति सर्दियों की कम फसल के लिए जिम्मेदार थी।चेन्नई, 24 अक्टूबर (भाषा) सीमेंट विनिर्माता कंपनी इंडिया सीमेंट्स के वाइस-चेयरमैन एन श्रीनिवासन का मानना है कि आईपीएल-2021 में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की जीत इंडिया सीमेंट्स लिमिटेड के साथ उसकी समानताओं को दर्शाती है। इंडिया सीमेंट्स दरअसल आईपीएल की सबसे सफल टीमों में से एक चेन्नई सुपर किंग्स की प्रमुख प्रायोजक है। संयुक्त अमीरात अरब में आयोजित हुए आईपीएल 2021 के फ़ाइनल मुकाबले में चेन्नई ने कोलकाता को हरा कर चौथी बार खिताब जीता था। चेन्नई मुख्यालय वाली इंडिया सीमेंट्स के प्रबंध निदेशक ने हाल ही में एक बातचीत के दौरान कहा, ‘‘इंडिया सीमेंट्स कंपनी 75 साल कीसरकार ने नेताजी से जुड़े स्थानों को बढ़ावा देने की योजना तैयार की

ऐमजॉन (Amazon) और फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने पहले ही स्थित को भांप लिया था और सेलर्स ने पहले ही काफी इनवेंट्री जमा कर रखी है। यही वजह है कि इन मार्केटप्लेसेज में स्थिति बेहतर है। दिवाली 4 नवंबर को है।नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने व्यापार में सुगमता, निर्यात और रोजगार को बढ़ावा देकर भारतीय कपड़ा उद्योग को प्रोत्साहन देने के लिए संशोधित प्रौद्योगिकी उन्नयन कोष योजना (एटीयूएफएस) की समीक्षा की। कपड़ा मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी। कपड़ा मंत्री गोयल और कपड़ा राज्य मंत्री दर्शना जरदोश ने कपड़ा मंत्रालय द्वारा आयोजित पांचवीं अंतर मंत्रालयी संचालन समिति (आईएमएससी) की बैठक में विभिन्न मंत्रालयों, विभागों, कपड़ा उद्योग संघों और बैंकों के साथ योजना की समीक्षा की। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, "उन्होंने व्यापार में सुगमता, निर्यात और रोजगार को बढ़ावा देकर भारतीय कपड़ा उद्योग को प्रोत्साहनकपड़ा क्षेत्र में 'ब्रांड इंडिया' के निर्माण के लिए सरकार-उद्योग को साथ काम करने की जरुरत: रिपोर्ट

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने सोमवार को कहा कि एक लचीली अर्थव्यवस्था के लिए निष्पक्ष और मजबूत ऑडिट व्यवस्था जरूरी है, क्योंकि इससे नागरिकों में भरोसा पैदा होता है। दास ने नेशनल एकेडमी ऑफ ऑडिट एंड अकाउंट्स में अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ऑडिट देश के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि सार्वजनिक व्यय के फैसले इन्हीं रिपोर्ट पर आधारित होते हैं। उन्होंने कहा कि उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर पहले से अधिक आर्थिक फैसले किए जा रहे हैं, इसलिए गलत जानकारी के चलते अपेक्षा से कमतर निर्णय हो सकता है। उन्होंनेनयी दिल्ली 24 अक्टूबर (भाषा) एंड्र्यू यूल एंड कंपनी ने भारत की आजादी के 75वें साल के उपलक्ष्य में अलग-अलग फ्लेवर में 'आजादी अमृत चाय' पेश की है। इस संबंध में जारी आधिकारिक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई। विज्ञप्ति में कहा गया कि केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने शुक्रवार को आजादी अमृत चाय पेश किया। यह चाय इलायची, अदरक, मसाला और सामान्य फ्लेवर में उपलब्ध है। यह जल्द ही खुदरा बिक्री के लिए संसद के टी बोर्ड काउंटर, ट्राइफेड के आउटलेट, उद्योग भवन और केंद्र सरकार के अन्य कार्यालयों में 75 रुपये प्रति 100 ग्रामएनसीएलएटी का एनसीएलटी को वीडियोकॉन के दो पूर्व अधिकारियों को सुनवाई का मौका देने का निर्देश

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


casumo स्पोर्ट्स रिव्यू
क्लासिक रम्मी कैसे खेलें
क्रिकेट in hindi meaning
लियोवेगास लोगगा इन
गा शतरंज कैलेंडर
बेटा ऐसा काम करेगा
बरसात के मौसम में
यूरोपीय फ़ुटबॉल लाइव वीडियो
बेस्ट ऑफ फाइव मीनिंग इन हिंदी
fun88 स्वागत बोनस
बैकारेट धोखाधड़ी कानून
lovebet बनाम शिखर
पैरिमैच विदड्रॉल पेटीएम
10cric ऑनलाइन बेटिंग
चेसिंगटन वे किंग्सले
बरसात देखना
विश्व कप बाधा
ऑनलाइन कैसीनो मुफ्त स्पिन असली पैसा
टेक्सास होल्डम बनाम पोकर
लूडो मुफ्त डाउनलोड
लॉटरी चेक करने वाला
बोन्स यूक्स
क्रिकेट एच स्ट्रीट चुला विस्टा
rummy इन हिंदी
ऑनलाइन बैकारेट गेम कैसे खेलें
बेस्ट फाइव वॉच कलेक्शन
ऑनलाइन कैसीनो के खेल मुफ्त