ऑनलाइन कैसीनो ऑस्ट्रेलिया

ऑनलाइन कैसीनो ऑस्ट्रेलिया

time:2021-10-25 15:20:02 अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे Views:4591

बैकारेट गेम मशीन तस्वीर ऑनलाइन कैसीनो ऑस्ट्रेलिया 10cric लाइव,casumo बोनस दांव लगाना,लियोवेगास कार्यालय माल्टा,lovebet बेटिंग टीवी,lovebet और इंग्लिश,lovebet वाई मैड्रिड,इक्का 3 रम्मी प्लस,बैकरेट इलेक्ट्रॉनिक धोखा,baccarat खेल सिगार,सट्टेबाजी हैशटैग,कैसीनो 99,कैसीनो थियेटर चेन्नई,क्लासिक रम्मी जादू,ओलंपिक में क्रिकेट,ई कैसीनो फिलीपींस,यूरोपीय फुटबॉल लाइव सिना,फुटबॉल मैच लाइव टेबल,उत्पत्ति कैसीनो कोंटो लॉसचेन,मैं बैकारेट खेलकर कैसे जीत सकता हूं,आईपीएल हाइलाइट हिंदी 2021,जैकपॉट परिणाम कल के खेल,लाइव लाठी ny,लाइव रूले जूम,लॉटरी वेबसाइट,ना खेल सितारे,ऑनलाइन कैसीनो दक्षिण अफ्रीका,दोस्तों के साथ ऑनलाइन पोकर गेम,परिमच डाउनलोड apk,पोकर फ्लश,आर स्पोर्ट्स 4u,नियम बोडमास,रम्मी द ग्रेट जुआरी फिल्म,स्लॉट मशीन गेम,स्पोर्ट्स 1.0 एयरटेल चैनल नंबर,स्पोर्ट्सबुक फ्री बेट,टेक्सास होल्डम कैसे खेलें,आज की फुटबॉल भविष्यवाणी,बैकारेट खेलने का अच्छा तरीका क्या है?,x लॉटरी परिणाम,इलेक्ट्रॉनिक खेल upa,कैसीनो गेम्स,गोवा ऑल बीच में,झिंजियांग टाइम्स लॉटरी,फुटबॉल रूल,बेटा बुलाए,लॉटरी गोल्ड बाजार,स्पोर्ट्स शूज एडिडास .अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

सर्वे के अनुसार, घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की.
नई दिल्ली : भारत में काम करने वाली करीब 87 फीसदी कंपनियां 2021 में कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने की योजना बना रही हैं. इसके मुकाबले 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने ही वेतन में वृद्धि की. ग्‍लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज फर्म एओन के सर्वे से इसका पता चलता है.

सर्वे के अनुसार, कोरोना संकट से प्रभावित अर्थव्यवस्था के दौर में घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की. यह पिछले एक दशक में सबसे निचला स्तर है. हालांकि, अगले साल औसत वेतनवृद्धि 7.3 फीसदी रहने का अनुमान है.

इसे भी पढ़ें : घर खरीदने के लिए क्‍या यह सबसे अच्‍छा समय है?

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है. 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने वेतन में वृद्धि की. जबकि 2021 में 87 फीसदी कंपनियां वेतनवृद्धि करने के पक्ष में हैं.

सर्वे के मुताबिक, भारत में औसत वेतनवृद्धि 2020 में 6.1 फीसदी रही. यह 2009 के 6.3 फीसदी के औसत से भी नीचे है. एओन के 'सैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडिया' में कहा गया है कि अगले साल कंपनियां वेतन में औसत 7.3 फीसदी की वृद्धि करेंगी. एओन ने इसके लिए 20 से अधिक इंडस्‍ट्रीज की 1,050 कंपनियों के बीच सर्वे किया था.

सितंबर-अक्टूबर 2020 की स्थिति तक 87 फीसदी कंपनियों ने 2021 में वेतनवृद्धि देने की प्रतिबद्धता जताई. जबकि इसमें 61 फीसदी कंपनियों ने कहा कि वे पांच से 10 फीसदी की वेतनवृद्धि देंगी.

इसे भी पढ़ें : होम लोन की मांग बढ़ने से बैंकों में छिड़ी ब्‍याज दर घटाने की जंग

वर्ष 2020 में 71 फीसदी कंपनियों ने वेतनवृद्धि दी. इसमें से 45 फीसदी ने पांच से 10 फीसदी के बीच वेतनवृद्धि दी. एओन में पार्टनर और सीईओ (परफॉर्मेंस एंड रिवॉर्ड सॉल्‍यूशंस) नितिन सेठी ने कहा, ''यह एक अनोखा साल है. कंपनियां अपने कर्मचारियों और ग्राहकों में निवेश कर रही हैं. कोविड-19 के गहरे असर के बावजूद कंपनियों ने कर्मचारियों को लेकर परिपक्‍व और लचीला रुख दिखाया है.''

हाई-टेक, आईटी, आईटीईएस, लाइफ साइंसेज, ई-कॉमर्स, केमिकल्‍स और प्रोफेशनल सर्विसेज ऐसे सेक्‍टरों में हैं जिनमें सबसे ज्‍यादा वेतनवृद्धि होने के आसार हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

वेतनवृद्धिसैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडियाकंपन‍ियांएओनसैलरी में बढ़ोतरीसर्वे

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.कोविड के बीच जानिए कहां मिल रही हैं नौकरियां

जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.यूपी : 31,000 टीचरों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
यूरोपीय फुटबॉल कप लाइव

अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.

क्रिकेट match live

देश में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर स्थिति बहुत साफ नहीं है. कर्मचारी और कंपनियां दोनों इसे लेकर टैक्‍स के बारे में चिंतित हैं.

एक्स स्पोर्ट्स फिटनेस

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

lovebet फेसबुक

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

जी शतरंज संकेतन

एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी