सबसे अच्छा बोर्ड गेम प्लेटफॉर्म

सबसे अच्छा बोर्ड गेम प्लेटफॉर्म

time:2021-10-25 15:52:04 इंफोसिस के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नए साल से बढ़ेगा वेतन Views:4591

बैकारेट डिकैन्टर सबसे अच्छा बोर्ड गेम प्लेटफॉर्म betway बूस्ट,fun88 लिंक्डइन,lovebet 4 चाकू,lovebet हैक एपीके डाउनलोड,lovebet सिस्टम 5/6,0141 स्पोर्ट्स आर्केड,बैकारेट का हिसाब,बैकरेट नौ केबल,पांच सम्मेलनों का सर्वश्रेष्ठ समूह,बोन्स योर अंकल,कैसीनो झा विलियम्स,शतरंज 800 रेटिंग,क्रिकेट बुक ऐप डाउनलोड,क्रिकेट वायरलेस योजना,एस्पोर्ट्स विकी,फुटबॉल विश्लेषक,ऑनलाइन कैसीनो में नि: शुल्क परीक्षण,हैप्पी किसान कैस्टअवे जावा गेम,बैकारेट खेलकर पैसे कैसे जीतें,जे शतरंज,मैं क्रिकेटर का नाम,लाइव कैसीनो यूटन पंजीकरण,लॉटरी आयरिश,लूडो वीडियो,ऑनलाइन सट्टेबाजी रैंकिंग,जीवन का ऑनलाइन खेल,ऑनलाइन स्लॉट गुरु,बिंदु रम्मी प्रश्न,पोकर बनाम 3 पत्ती,रूले कुंजियाँ,रमी बेस्ट ऐप डाउनलोड,रम्मीकल्चर अपडेट,स्लॉट्स दा मेमोरिया राम,खेल फिल्में,तीन पत्ती कैश,सेलो पर खुश किसान,वीडियो पोकर गेम,जुए में क्यों हारे,cricket रैंकिंग,करीना कपूर,क्रिकेट बुक,चेस बोर्ड प्राइस,नया उत्पाद की सुझाव,बरसात निबंध हिंदी मे,रमी तेरा पानी,स्टेटस डाउनलोड mp3, .इंफोसिस के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नए साल से बढ़ेगा वेतन

कंपनी ने वैरिएबल-पे के साथ विशेष प्रोत्साहन देने की भी घोषणा की है.
नई दिल्ली : देश की दिग्‍गज आईटी कंपनी इंफोसिस ने अपने सभी स्तरों के कर्मचारियों को वेतनवृद्धि और पदोन्नति देने की घोषणा की है. कंपनी ने कहा है कि वेतनवृद्धि और पदोन्नति एक जनवरी से प्रभावी होगी.

बेंगलुरु मुख्यालय वाली कंपनी ने दूसरी तिमाही में वैरिएबल-पे के साथ विशेष प्रोत्साहन देने की भी घोषणा की है. सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी.

इंफोसिस के सीईओ और एमडी सलिल पारेख ने वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, ''इस संकट के समय अपने कर्मचारियों की जबर्दस्त प्रतिबद्धता की वजह से हम तिमाही में 100 फीसदी वैरिएबल-पे दे रहे हैं. हम अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देंगे.''

इसे भी पढ़ें : यूपी : 31,000 टीचरों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू

उन्होंने बताया कि वेतनवृद्धि की प्रक्रिया अब फिर शुरू होगी, जो एक जनवरी, 2021 से प्रभावी होगी.

पारेख ने कहा, ''हमने पिछली तिमाही में जूनियर स्तर पर पदोन्नति शुरू की थी. अब हम सभी स्तरों पर इसका विस्तार करेंगे.'' इससे पहले इंफोसिस ने कहा था कि वह महामारी की वजह से कारोबार में आई सुस्ती के चलते पदोन्नति और वेतनवृद्धि रोक रही है.

इसे भी पढ़ें : सितंबर में नियुक्ति गतिविधियों में 24% की बढ़ोतरी : रिपोर्ट

हालांकि, इंफोसिस ने कहा था कि उसने जिन भी लोगों को नौकरी की पेशकश की है, उन्हें कंपनी के साथ जोड़ा जाएगा. इंफोसिस के सीओओ प्रवीन राव ने कहा कि वेतनवृद्धि पूर्व के वर्षों के समान होगी. पिछले साल कंपनी ने भारत में कर्मचारियों को औसतन छह फीसदी की वेतनवृद्धि दी थी. देश से बाहर यह औसतन एक से डेढ़ फीसदी रही थी.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इंफोसिसपदोन्‍नतिनए साल से वेतनवृद्ध‍िकर्मचारियों के लिए खुशखबरी

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.जून में गिरावट के बाद पिछले दो महीनों में एक्टिव जॉब ओपनिंग्‍स में 74 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. कंपनियों को कोविड की महामारी खत्‍म होने के बाद प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने की उम्‍मीद है. वे इसके लिए खुद को तैयार रखना चाहती हैं.कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंची कंपनियों में भर्ती : सर्वे

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
7 . से विभाज्य नियम

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

ipl फ्री में कैसे देखें

देश में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर स्थिति बहुत साफ नहीं है. कर्मचारी और कंपनियां दोनों इसे लेकर टैक्‍स के बारे में चिंतित हैं.

क्रिकेट इंडिया ऑस्ट्रेलिया

आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.

पोकर खिलाड़ी

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.

बैकरेट लाइव डीलर

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी